Skip to main content

अस-शुआरा आयत ८ | Ash-Shu’ara 26:8

Indeed
إِنَّ
बेशक
in
فِى
इसमें
that
ذَٰلِكَ
इसमें
surely (is) a sign
لَءَايَةًۖ
अलबत्ता एक निशानी है
but not
وَمَا
और नहीं
are
كَانَ
हैं
most of them
أَكْثَرُهُم
अक्सर उनके
believers
مُّؤْمِنِينَ
ईमान लाने वाले

Inna fee thalika laayatan wama kana aktharuhum mumineena

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

निश्चय ही इसमें एक बड़ी निशानी है, इसपर भी उनमें से अधिकतर माननेवाले नहीं

English Sahih:

Indeed in that is a sign, but most of them were not to be believers.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

यक़ीनन इसमें (भी क़ुदरत) ख़ुदा की एक बड़ी निशानी है मगर उनमें से अक्सर ईमान लाने वाले ही नहीं

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

निश्चय ही, इसमें बड़ी निशानी (लक्षण)[1] है। फिर उनमें अधिक्तर ईमान लाने वाले नहीं हैं।