Skip to main content

अल-मुर्सलत आयत ४५ | Al-Mursalat 77:45

Woe
وَيْلٌ
हलाकत है
that Day
يَوْمَئِذٍ
उस दिन
to the deniers
لِّلْمُكَذِّبِينَ
झुठलाने वालों के लिए

Waylun yawmaithin lilmukaththibeena

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

तबाही है उस दिन झुठलानेवालों की!

English Sahih:

Woe, that Day, to the deniers.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

उस दिन झुठलाने वालों की ख़राबी है

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

विनाश है उस दिन झुठलाने वालों के लिए।