Skip to main content

अन नहल आयत ४८ | An-Nahl 16:48

Have not
أَوَلَمْ
क्या भला नहीं
they seen
يَرَوْا۟
वो देखते
[towards]
إِلَىٰ
तरफ़ उसके जो
what
مَا
तरफ़ उसके जो
Allah has created
خَلَقَ
पैदा की
Allah has created
ٱللَّهُ
अल्लाह ने
from
مِن
कोई भी चीज़
a thing?
شَىْءٍ
कोई भी चीज़
Incline
يَتَفَيَّؤُا۟
झुकते हैं
their shadows
ظِلَٰلُهُۥ
साए उसके
to
عَنِ
दाऐं से
the right
ٱلْيَمِينِ
दाऐं से
and to the left
وَٱلشَّمَآئِلِ
और बाऐं से
prostrating
سُجَّدًا
सजदा करते हुए
to Allah
لِّلَّهِ
अल्लाह के लिए
while they
وَهُمْ
इस हाल में कि वो
(are) humble?
دَٰخِرُونَ
आजिज़ करने वाले हैं

Awa lam yaraw ila ma khalaqa Allahu min shayin yatafayyao thilaluhu 'ani alyameeni waalshshamaili sujjadan lillahi wahum dakhiroona

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

या वह उन्हें त्रस्त अवस्था में पकड़ ले? किन्तु तुम्हारा रब तो बड़ा ही करुणामय, दयावान है

English Sahih:

Have they not considered what things Allah has created? Their shadows incline to the right and to the left, prostrating to Allah, while they [i.e., those creations] are humble.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

क्या उन लोगों ने ख़ुदा की मख़लूक़ात में से कोई ऐसी चीज़ नहीं देखी जिसका साया (कभी) दाहिनी तरफ और कभी बायीं तरफ पलटा रहता है कि (गोया) ख़ुदा के सामने सर सजदा है और सब इताअत का इज़हार करते हैं

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

क्या अल्लाह की उत्पन्न की हुई किसी चीज़ को उन्होंने नहीं देखा? जिसकी छाया दायें तथा बायें झुकती है, अल्लाह को सज्दा करते हुए? और वे सर्व विनयशील हैं।