Skip to main content

अत-तक्वीर आयत २१ | At-Takwir 81:21

One to be obeyed
مُّطَاعٍ
इताअत किया जाता है
and
ثَمَّ
वहाँ
trustworthy
أَمِينٍ
अमानतदार है

Muta'in thamma ameenin

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

उसका आदेश माना जाता है, वहाँ वह विश्वासपात्र है

English Sahih:

Obeyed there [in the heavens] and trustworthy.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

वहाँ (सब फरिश्तों का) सरदार अमानतदार है

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

जिसकी बात मानी जाती है और बड़ा अमानतदार है।[1]