Skip to main content
He said
قَالَ
फ़रमाया
"O Nuh!
يَٰنُوحُ
ऐ नूह
Indeed he
إِنَّهُۥ
बेशक वो
(is) not
لَيْسَ
नहीं है
of
مِنْ
तेरे घर वालों में से
your family;
أَهْلِكَۖ
तेरे घर वालों में से
indeed [he]
إِنَّهُۥ
बेशक वो
(his) deed
عَمَلٌ
एक अमल है
(is) other than
غَيْرُ
ग़ैर
righteous
صَٰلِحٍۖ
सालेह
so (do) not
فَلَا
तो ना
ask Me
تَسْـَٔلْنِ
तू सवाल कर मुझसे
(about) what
مَا
उसका जो
not
لَيْسَ
नहीं
you have
لَكَ
तुझे
of it
بِهِۦ
जिसका
any knowledge
عِلْمٌۖ
कोई इल्म
Indeed I
إِنِّىٓ
बेशक मैं
admonish you
أَعِظُكَ
मैं नसीहत करता हूँ तुझे
lest
أَن
कि
you be
تَكُونَ
(ना) तू हो जा
among
مِنَ
जाहिलों में से
the ignorant"
ٱلْجَٰهِلِينَ
जाहिलों में से

Qala ya noohu innahu laysa min ahlika innahu 'amalun ghayru salihin fala tasalni ma laysa laka bihi 'ilmun innee a'ithuka an takoona mina aljahileena

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

कहा, 'ऐ नूह! वह तेरे घरवालों में से नहीं, वह तो सर्वथा एक बिगड़ा काम है। अतः जिसका तुझे ज्ञान नहीं, उसके विषय में मुझसे न पूछ, तेरे नादान हो जाने की आशंका से मैं तुझे नसीहत करता हूँ।'

English Sahih:

He said, "O Noah, indeed he is not of your family; indeed, he is [one whose] work was other than righteous, so ask Me not for that about which you have no knowledge. Indeed, I advise you, lest you be among the ignorant."

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

(तू मेरे बेटे को नजात दे) ख़ुदा ने फरमाया ऐ नूह तुम (ये क्या कह रहे हो) हरगिज़ वह तुम्हारे अहल में शामिल नहीं वह बेशक बदचलन है (देखो जिसका तुम्हें इल्म नहीं है मुझसे उसके बारे में (दरख्वास्त न किया करो और नादानों की सी बातें न करो) नूह ने अर्ज़ की ऐ मेरे परवरदिगार मै तुझ ही से पनाह मागँता हूँ कि जिस चीज़ का मुझे इल्म न हो मै उसकी दरख्वास्त करुँ

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

उस (अल्लाह) ने उत्तर दियाः वह तेरा परिजन नहीं। (क्योंकि) वह कुकर्मी है। अतः मुझसे उस चीज़ का प्रश्न न कर, जिसका तुझे कोई ज्ञान नहीं। मैं तुझे बताता हूँ कि अज्ञानों में न हो जा।