Skip to main content

अल इस्रा आयत १९ | Al-Isra 17:19

And whoever
وَمَنْ
और जो
desires
أَرَادَ
चाहे
the Hereafter
ٱلْءَاخِرَةَ
आख़िरत को
and exerts
وَسَعَىٰ
और वो कोशिश करे
for it
لَهَا
उसके लिए
the effort
سَعْيَهَا
(ज़रूरी) कोशिश उसकी
while he
وَهُوَ
जबकि वो
(is) a believer
مُؤْمِنٌ
मोमिन हो
then those
فَأُو۟لَٰٓئِكَ
तो यही लोग हैं
[are]
كَانَ
है
their effort
سَعْيُهُم
कोशिश उनकी
(is) appreciated
مَّشْكُورًا
क़ाबिले क़द्र

Waman arada alakhirata wasa'a laha sa'yaha wahuwa muminun faolaika kana sa'yuhum mashkooran

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

और जो आख़िरत चाहता हो और उसके लिए ऐसा प्रयास भी करे जैसा कि उसके लिए प्रयास करना चाहिए और वह हो मोमिन, तो ऐसे ही लोग है जिनके प्रयास की क़द्र की जाएगी

English Sahih:

But whoever desires the Hereafter and exerts the effort due to it while he is a believer – it is those whose effort is ever appreciated [by Allah].

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

और जो शख़्श आख़िर का मुतमइनी हो और उसके लिए खूब जैसी चाहिए कोशिश भी की और वह ईमानदार भी है तो यही वह लोग हैं जिनकी कोशिश मक़बूल होगी

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

तथा जो परलोक चाहता हो और उसके लिए प्रयास करता हो और वह एकेश्वरवादी हो, तो वही हैं, जिनके प्रयास का आदर सम्मान किया जायेगा।