Skip to main content

अल-अम्बिया आयत ३४ | Al-Ambiya 21:34

And not
وَمَا
और नहीं
We made
جَعَلْنَا
बनाई हमने
for any man
لِبَشَرٍ
किसी इन्सान के लिए
before you
مِّن
आपसे पहले
before you
قَبْلِكَ
आपसे पहले
[the] immortality
ٱلْخُلْدَۖ
हमेशगी
so if
أَفَإِي۟ن
क्या फिर अगर
you die
مِّتَّ
आप फ़ौत होगए
then (would) they
فَهُمُ
तो वो
live forever?
ٱلْخَٰلِدُونَ
हमेशा रहने वाले

Wama ja'alna libasharin min qablika alkhulda afain mitta fahumu alkhalidoona

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

हमने तुमसे पहले भी किसी आदमी के लिए अमरता नहीं रखी। फिर क्या यदि तुम मर गए तो वे सदैव रहनेवाले है?

English Sahih:

And We did not grant to any man before you eternity [on earth]; so if you die – would they be eternal?

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

और (ऐ रसूल) हमने तुमसे पहले भी किसी फ़र्दे बशर को सदा की ज़िन्दगी नहीं दी तो क्या अगर तुम मर जाओगे तो ये लोग हमेशा जिया ही करेंगे

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

और (हे नबी!) हमने नहीं बनायी है, किसी मनुष्य के लिए आपसे पहले नित्यता। तो यदि, आप मर[1] जायें, तो क्या वे नित्य जीवी हैं?