Skip to main content

अस-शुआरा आयत १५६ | Ash-Shu’ara 26:156

And (do) not
وَلَا
और ना
touch her
تَمَسُّوهَا
तुम छूना उसे
with harm
بِسُوٓءٍ
बुराई से
lest seize you
فَيَأْخُذَكُمْ
वरना पकड़ लेगा तुम्हें
(the) punishment
عَذَابُ
अज़ाब
(of) a Day
يَوْمٍ
बड़े दिन का
Great"
عَظِيمٍ
बड़े दिन का

Wala tamassooha bisooin fayakhuthakum 'athabu yawmin 'atheemin

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

तकलीफ़ पहुँचाने के लिए इसे हाथ न लगाना, अन्यथा एक बड़े दिन की यातना तुम्हें आ लेगी।'

English Sahih:

And do not touch her with harm, lest you be seized by the punishment of a terrible day."

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

और इसको कोई तकलीफ़ न पहुँचाना वरना एक बड़े (सख्त) ज़ोर का अज़ाब तुम्हे ले डालेगा

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

तथा उसे हाथ न लगाना बुराई से, अन्यथा तुम्हें पकड़ लेगी एक भीषण दिन की यातना।