Skip to main content

अस-शुआरा आयत ४९ | Ash-Shu’ara 26:49

He said
قَالَ
कहा
"You believed
ءَامَنتُمْ
ईमान लाए तुम
in him
لَهُۥ
उस पर
before
قَبْلَ
इससे पहले
[that]
أَنْ
कि
I gave permission
ءَاذَنَ
मैं इजाज़त देता
to you
لَكُمْۖ
तुम्हें
Indeed he
إِنَّهُۥ
बेशक वो
(is) surely your chief
لَكَبِيرُكُمُ
अलबत्ता बड़ा है तुम्हारा
who
ٱلَّذِى
जिसने
has taught you
عَلَّمَكُمُ
सिखाया तुम्हें
the magic
ٱلسِّحْرَ
जादू
so surely soon
فَلَسَوْفَ
पस अलबत्ता ज़रूर
you will know
تَعْلَمُونَۚ
तुम जान लोगे
I will surely cut off
لَأُقَطِّعَنَّ
अलबत्ता मैं ज़रूर काट दूँगा
your hands
أَيْدِيَكُمْ
तुम्हारे हाथों को
and your feet
وَأَرْجُلَكُم
और तुम्हारे पाँवों को
of
مِّنْ
मुख़ालिफ़ सिम्त से
opposite sides
خِلَٰفٍ
मुख़ालिफ़ सिम्त से
and I will surely crucify you
وَلَأُصَلِّبَنَّكُمْ
और अलबत्ता मैं ज़रूर सूली पर चढ़ाऊँगा तुम्हें
all"
أَجْمَعِينَ
सब के सब को

Qala amantum lahu qabla an athana lakum innahu lakabeerukumu allathee 'allamakumu alssihra falasawfa ta'lamoona laoqatti'anna aydiyakum waarjulakum min khilafin walaosallibannakum ajma'eena

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

उसने कहा, 'तुमने उसको मान लिया, इससे पहले कि मैं तुम्हें अनुमति देता। निश्चय ही वह तुम सबका प्रमुख है, जिसने तुमको जादू सिखाया है। अच्छा, शीघ्र ही तुम्हें मालूम हुआ जाता है! मैं तुम्हारे हाथ और पाँव विपरीत दिशाओं से कटवा दूँगा और तुम सभी को सूली पर चढ़ा दूँगा।'

English Sahih:

[Pharaoh] said, "You believed him [i.e., Moses] before I gave you permission. Indeed, he is your leader who has taught you magic, but you are going to know. I will surely cut off your hands and your feet on opposite sides, and I will surely crucify you all."

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

फिरऔन ने कहा (हाए) क़ब्ल इसके कि मै तुम्हें इजाज़त दूँ तुम इस पर ईमान ले आए बेशक ये तुम्हारा बड़ा (गुरु है जिसने तुम सबको जादू सिखाया है तो ख़ैर) अभी तुम लोगों को (इसका नतीजा) मालूम हो जाएगा कि हम यक़ीनन तुम्हारे एक तरफ के हाथ और दूसरी तरफ के पाँव काट डालेगें और तुम सब के सब को सूली देगें

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

(फ़िरऔन ने) कहाः तुम उसका विश्वास कर बैठे, इससे पहले कि मैं तुम्हें आज्ञा दूँ? वास्तव में, वह तुम्हारा बड़ा (गुरू) है, जिसने तुम्हें जादू सिखाया है, तो तुम्हें शीघ्र ज्ञान हो जायेगा, मैं अवश्य तुम्हारे हाथों तथा पैरों को विपरीत दिशा[1] से काट दूँगा तथा तुम सभी को फाँसी दे दूँगा!