Skip to main content

अस-शुआरा आयत ९७ | Ash-Shu’ara 26:97

"By Allah
تَٱللَّهِ
क़सम अल्लाह की
indeed
إِن
बेशक
we were
كُنَّا
थे हम
surely in
لَفِى
अलबत्ता गुमराही में
error
ضَلَٰلٍ
अलबत्ता गुमराही में
clear
مُّبِينٍ
खुली-खुली

TaAllahi in kunna lafee dalalin mubeenin

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

'अल्लाह की क़सम! निश्चय ही हम खुली गुमराही में थे

English Sahih:

"By Allah, we were indeed in manifest error.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

ख़ुदा की क़सम हम लोग तो यक़ीनन सरीही गुमराही में थे

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

अल्लाह की शपथ! वास्तव में, हम खुले कुपथ में थे।