Skip to main content

आले इमरान आयत १०७ | Aal-e-Imran 3:107

But as for
وَأَمَّا
और रहे
those whose
ٱلَّذِينَ
वो जो
turn white
ٱبْيَضَّتْ
सफ़ेद होंगे
[their] faces
وُجُوهُهُمْ
चेहरे जिनके
then (they will be) in
فَفِى
तो रहमत में होंगे
(the) Mercy
رَحْمَةِ
तो रहमत में होंगे
(of) Allah
ٱللَّهِ
अल्लाह की
they
هُمْ
वो
in it
فِيهَا
उसमें
(will) abide forever
خَٰلِدُونَ
हमेशा रहने वाले हैं

Waamma allatheena ibyaddat wujoohuhum fafee rahmati Allahi hum feeha khalidoona

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

रहे वे लोग जिनके चेहरे उज्ज्वल होंगे, वे अल्लाह की दयालुता की छाया में होंगे। वे उसी में सदैव रहेंगे

English Sahih:

But as for those whose faces turn white, [they will be] within the mercy of Allah. They will abide therein eternally.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

और जिनके चेहरे पर नूर बरसता होगा वह तो ख़ुदा की रहमत(बहिश्त) में होंगे (और) उसी में सदा रहेंगे

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

तथा जिनके मुख उजले होंगे, वे अल्लाह की दया (स्वर्ग) में रहेंगे। व उसमें सदावासी होंगे।