Skip to main content

अज-ज़ुमर आयत ७० | Az-Zumar 39:70

And (will) be paid in full
وَوُفِّيَتْ
और पूरा-पूरा दिया जाएगा
every
كُلُّ
हर
soul
نَفْسٍ
नफ़्स को
what
مَّا
जो
it did;
عَمِلَتْ
उसने अमल किया
and He
وَهُوَ
और वो
(is the) Best-Knower
أَعْلَمُ
ज़्यादा जानता है
of what
بِمَا
जो कुछ
they do
يَفْعَلُونَ
वो करते हैं

Wawuffiyat kullu nafsin ma 'amilat wahuwa a'lamu bima yaf'aloona

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

और प्रत्येक व्यक्ति को उसका किया भरपूर दिया जाएगा। और वह भली-भाँति जानता है, जो कुछ वे करते है

English Sahih:

And every soul will be fully compensated [for] what it did; and He is most knowing of what they do.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

और जिस शख्स ने जैसा किया हो उसे उसका पूरा पूरा बदला मिल जाएगा, और जो कुछ ये लोग करते हैं वह उससे ख़ूब वाक़िफ है

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

तथा पूरा-पूरा दिया जायेगा प्रत्येक जीव को, उसका कर्मफल तथा वह भली-भाँति जानने वाला है उसे, जो वे कर रहे हैं।