Skip to main content

अन-निसा आयत ६६ | An-Nisa 4:66

And if
وَلَوْ
और अगर
[that] We
أَنَّا
बेशक हम
(had) decreed
كَتَبْنَا
लिख देते हम
on them
عَلَيْهِمْ
उन पर
that
أَنِ
कि
"Kill
ٱقْتُلُوٓا۟
क़त्ल करो
yourselves"
أَنفُسَكُمْ
अपने नफ़्सों को
or
أَوِ
या
"Go forth
ٱخْرُجُوا۟
निकल जाओ
from
مِن
अपने घरों से
your homes"
دِيَٰرِكُم
अपने घरों से
not
مَّا
ना
they would have done it
فَعَلُوهُ
वो करते उसे
except
إِلَّا
मगर
a few
قَلِيلٌ
थोड़े
of them
مِّنْهُمْۖ
उनमें से
But if
وَلَوْ
और अगर
[that] they
أَنَّهُمْ
बेशक वो
had done
فَعَلُوا۟
करते
what
مَا
जो
they were advised
يُوعَظُونَ
वो नसीहत किए जाते हैं
with [it]
بِهِۦ
जिसकी
surely (it) would have been
لَكَانَ
अलबत्ता होता
better
خَيْرًا
बेहतर
for them
لَّهُمْ
उनके लिए
and stronger
وَأَشَدَّ
और ज़्यादा शदीद
strengthen(ing)
تَثْبِيتًا
साबित क़दमी में

Walaw anna katabna 'alayhim ani oqtuloo anfusakum awi okhrujoo min diyarikum ma fa'aloohu illa qaleelun minhum walaw annahum fa'aloo ma yoo'athoona bihi lakana khayran lahum waashadda tathbeetan

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

और यदि कहीं हमने उन्हें आदेश दिया होता कि 'अपनों को क़त्ल करो या अपने घरों से निकल जाओ।' तो उनमें से थोड़े ही ऐसा करते। हालाँकि जो नसीहत उन्हें दी जाती है, अगर वे उसे व्यवहार में लाते तो यह बात उनके लिए अच्छी होती और ज़्यादा ज़माव पैदा करनेवाली होती

English Sahih:

And if We had decreed upon them, "Kill yourselves" or "Leave your homes," they would not have done it, except for a few of them. But if they had done what they were instructed, it would have been better for them and a firmer position [for them in faith].

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

(इस्लामी शरीयत में तो उनका ये हाल है) और अगर हम बनी इसराइल की तरह उनपर ये हुक्म जारी कर देते कि तुम अपने आपको क़त्ल कर डालो या शहर बदर हो जाओ तो उनमें से चन्द आदमियों के सिवा ये लोग तो उसको न करते और अगर ये लोग इस बात पर अमल करते जिसकी उन्हें नसीहत की जाती है तो उनके हक़ में बहुत बेहतर होता

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

और यदि हम उन्हें[1] आदेश देते कि स्वयं को वध करो तथा अपने घरों से निकल जाओ, तो इनमें से थोड़े के सिवा कोई ऐसा नहीं करता। जबकि उन्हें जो निर्देश दिया जाता है, यदि वे उसका पालन करते, तो उनके लिए अच्छा और अधिक स्थिरता का कारण होता।