Skip to main content

अल-जाथीया आयत ३७ | Al-Jathiya 45:37

And for Him
وَلَهُ
और उसी के लिए है
(is) the greatness
ٱلْكِبْرِيَآءُ
बड़ाई
in
فِى
आसमानों में
the heavens
ٱلسَّمَٰوَٰتِ
आसमानों में
and the earth
وَٱلْأَرْضِۖ
और ज़मीन में
and He
وَهُوَ
और वो
(is) the All-Mighty
ٱلْعَزِيزُ
बहुत ज़बरदस्त है
the All-Wise
ٱلْحَكِيمُ
ख़ूब हिकमत वाला है

Walahu alkibriyao fee alssamawati waalardi wahuwa al'azeezu alhakeemu

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

आकाशों और धरती में बड़ाई उसी के लिए है, और वही प्रभुत्वशाली, अत्यन्त तत्वदर्शी है

English Sahih:

And to Him belongs [all] grandeur within the heavens and the earth, and He is the Exalted in Might, the Wise.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

और सारे आसमान व ज़मीन में उसके लिए बड़ाई है और वही (सब पर) ग़ालिब हिकमत वाला है

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

और उसी की महिमा[1] है आकाशों तथा धरती में और वही प्रबल और सब गुणों को जानने वाला है।