Skip to main content

अज़-ज़ारियात आयत ११ | Adh-Dhariyat 51:11

Those who
ٱلَّذِينَ
वो लोग जो
[they]
هُمْ
वो
(are) in
فِى
ग़फ़्लत में
flood
غَمْرَةٍ
ग़फ़्लत में
(of) heedlessness
سَاهُونَ
भूले हुए हैं

Allatheena hum fee ghamratin sahoona

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

जो ग़फ़लत में पड़े हुए हैं भूले हुए

English Sahih:

Who are within a flood [of confusion] and heedless.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

जो ग़फलत में भूले हुए (पड़े) हैं पूछते हैं कि जज़ा का दिन कब होगा

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

जो अपनी अचेतना में भूले हुए हैं।