Skip to main content

अल-मुर्सलत आयत ४३ | Al-Mursalat 77:43

"Eat
كُلُوا۟
खाओ
and drink
وَٱشْرَبُوا۟
और पियो
(in) satisfaction
هَنِيٓـًٔۢا
मज़े से
for what
بِمَا
बवजह उसके जो
you used
كُنتُمْ
थे तुम
(to) do"
تَعْمَلُونَ
तुम अमल करते

Kuloo waishraboo haneean bima kuntum ta'maloona

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

'खाओ-पियो मज़े से, उस कर्मों के बदले में जो तुम करते रहे हो।'

English Sahih:

[Being told], "Eat and drink in satisfaction for what you used to do."

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

(दुनिया में) जो अमल करते थे उसके बदले में मज़े से खाओ पियो

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

खाओ तथा पिओ मनमानी उन कर्मों के बदले, जो तुम करते रहे।