Skip to main content

अल-बुरूज आयत २२ | Al-Buruj 85:22

In
فِى
लौहे महफ़ूज़ में
a Tablet
لَوْحٍ
लौहे महफ़ूज़ में
Guarded
مَّحْفُوظٍۭ
लौहे महफ़ूज़ में

Fee lawhin mahfoothin

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

सुरक्षित पट्टिका में अंकित है

English Sahih:

[Inscribed] in a Preserved Slate.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

जो लौहे महफूज़ में लिखा हुआ है

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

जो लेखपत्र (लौह़े मह़फ़ूज़) में सुरक्षित है।[1]