Skip to main content
He said
قَالَ
उसने कहा
"O my son!
يَٰبُنَىَّ
ऐ मेरे बेटे
(Do) not
لَا
ना तुम बयान करना
relate
تَقْصُصْ
ना तुम बयान करना
your vision
رُءْيَاكَ
ख़्वाब अपना
to
عَلَىٰٓ
अपने भाईयों पर
your brothers
إِخْوَتِكَ
अपने भाईयों पर
lest they plan
فَيَكِيدُوا۟
पस वो चाल चलेंगे
against you
لَكَ
तेरे लिए
a plot
كَيْدًاۖ
एक चाल
Indeed
إِنَّ
बेशक
the Shaitaan
ٱلشَّيْطَٰنَ
शैतान
(is) to man
لِلْإِنسَٰنِ
इन्सान के लिए
an enemy
عَدُوٌّ
दुश्मन है
open
مُّبِينٌ
खुल्लम-खुल्ला

Qala ya bunayya la taqsus ruyaka 'ala ikhwatika fayakeedoo laka kaydan inna alshshaytana lilinsani 'aduwwun mubeenun

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

उसने कहा, 'ऐ मेरे बेटे! अपना स्वप्न अपने भाइयों को मत बताना, अन्यथा वे तेरे विरुद्ध कोई चाल चलेंगे। शैतान तो मनुष्य का खुला हुआ शत्रु है

English Sahih:

He said, "O my son, do not relate your vision to your brothers or they will contrive against you a plan. Indeed Satan, to man, is a manifest enemy.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

याक़ूब ने कहा ऐ बेटा (देखो ख़बरदार) कहीं अपना ख्वाब अपने भाईयों से न दोहराना (वरना) वह लोग तुम्हारे लिए मक्कारी की तदबीर करने लगेगें इसमें तो शक़ ही नहीं कि शैतान आदमी का खुला हुआ दुश्मन है

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

उसने कहाः हे मेरे पुत्र! अपना स्वप्न अपने भाईयों को न बताना[1], अन्यथा वे तेरे विरुध्द षड्यंत्र रचेंगे। वास्तव में, शैतान मानव का खुला शत्रु है।