Skip to main content
Certainly
لَّقَدْ
अलबत्ता तहक़ीक़
were
كَانَ
हैं
in
فِى
यूसुफ़ में
Yusuf
يُوسُفَ
यूसुफ़ में
and his brothers
وَإِخْوَتِهِۦٓ
और उसके भाईयों में
signs
ءَايَٰتٌ
निशानियाँ
for those who ask
لِّلسَّآئِلِينَ
सवाल करने वालों के लिए

Laqad kana fee yoosufa waikhwatihi ayatun lilssaileena

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

निश्चय ही यूसुफ़ और उनके भाइयों में सवाल करनेवालों के लिए निशानियाँ है

English Sahih:

Certainly were there in Joseph and his brothers signs for those who ask, [such as]

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

(ऐ रसूल) यूसुफ और उनके भाइयों के किस्से में पूछने वाले (यहूद) के लिए (तुम्हारी नुबूवत) की यक़ीनन बहुत सी निशानियाँ हैं

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

वास्तव में, यूसुफ़ और उसके भाईयों (की कथा) में पूछने वालों के[1] लिए कई निशानियाँ हैं।