Skip to main content

अन नहल आयत १०२ | An-Nahl 16:102

Say
قُلْ
कह दीजिए
"Has brought it down
نَزَّلَهُۥ
नाज़िल किया है उसे
the Holy Spirit
رُوحُ
रूहल क़ुदुस ने
the Holy Spirit
ٱلْقُدُسِ
रूहल क़ुदुस ने
from
مِن
आपके रब की तरफ़ से
your Lord
رَّبِّكَ
आपके रब की तरफ़ से
in truth
بِٱلْحَقِّ
साथ हक़ के
to make firm
لِيُثَبِّتَ
ताकि वो साबित क़दम रखे
those who
ٱلَّذِينَ
उन्हें जो
believe
ءَامَنُوا۟
ईमान लाए
and (as) a guidance
وَهُدًى
और हिदायत
and glad tidings
وَبُشْرَىٰ
और ख़ुशख़बरी
to the Muslims"
لِلْمُسْلِمِينَ
मुसलमानों के लिए

Qul nazzalahu roohu alqudusi min rabbika bialhaqqi liyuthabbita allatheena amanoo wahudan wabushra lilmuslimeena

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

कह दो, 'इसे ता पवित्र आत्मा ने तुम्हारे रब की ओर क्रमशः सत्य के साथ उतारा है, ताकि ईमान लानेवालों को जमाव प्रदान करे और आज्ञाकारियों के लिए मार्गदर्शन और शुभ सूचना हो

English Sahih:

Say, [O Muhammad], "The Pure Spirit [i.e., Gabriel] has brought it down from your Lord in truth to make firm those who believe and as guidance and good tidings to the Muslims."

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

(ऐ रसूल) तुम (साफ) कह दो कि इस (क़ुरान) को तो रुहलकुदूस (जिबरील) ने तुम्हारे परवरदिगार की तरफ से हक़ नाज़िल किया है ताकि जो लोग ईमान ला चुके हैं उनको साबित क़दम रखे और मुसलमानों के लिए (अज़सरतापा) खुशखबरी है

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

आप कह दें कि इसे (रूह़ुल कुदुस)[1] ने आपके पालनहार की ओर से सत्य के साथ क्रमशः उतारा है, ताकि उन्हें सुदृढ़ कर दे, जो ईमान लाये हैं तथा मार्गदर्शन और शुभ सूचना है, आज्ञाकारियों के लिए।