Skip to main content

अल कहफ़ आयत ९ | Al-Kahf 18:9

Or
أَمْ
क्या
you think
حَسِبْتَ
समझा आपने
that
أَنَّ
कि बेशक
(the) companions
أَصْحَٰبَ
ग़ार वाले
(of) the cave
ٱلْكَهْفِ
ग़ार वाले
and the inscription
وَٱلرَّقِيمِ
और कतबे वाले
were
كَانُوا۟
थे वो
among
مِنْ
हमारी निशानियों में से
Our Signs
ءَايَٰتِنَا
हमारी निशानियों में से
a wonder?
عَجَبًا
अजीब

Am hasibta anna ashaba alkahfi waalrraqeemi kanoo min ayatina 'ajaban

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

क्या तुम समझते हो कि गुफा और रक़ीमवाले हमारी अद्भु त निशानियों में से थे?

English Sahih:

Or have you thought that the companions of the cave and the inscription were, among Our signs, a wonder?

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

(ऐ रसूल) क्या तुम ये ख्याल करते हो कि असहाब कहफ व रक़ीम (खोह) और (तख्ती वाले) हमारी (क़ुदरत की) निशानियों में से एक अजीब (निशानी) थे

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

(हे नबी!) क्या आपने समझा है कि गुफा तथा शिला लेख वाले[1], हमारे अद्भुत लक्षणों (निशानियों) में से थे[2]?