Skip to main content

अत-तहा आयत ३ | At-Tahaa 20:3

(But)
إِلَّا
मगर
(as) a reminder
تَذْكِرَةً
एक नसीहत
for (those) who
لِّمَن
उसके लिए जो
fear
يَخْشَىٰ
डरता हो

Illa tathkiratan liman yakhsha

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

यह तो बस एक अनुस्मृति है, उसके लिए जो डरे,

English Sahih:

But only as a reminder for those who fear [Allah] –

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

मगर जो शख्स खुदा से डरता है उसके लिए नसीहत (क़रार दिया है)

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

परन्तु ये उसकी शिक्षा के लिए है, जो डरता[1] हो।