Skip to main content

अत-तहा आयत ७२ | At-Tahaa 20:72

They said
قَالُوا۟
उन्होंने कहा
"Never
لَن
हरगिज़ नहीं
we will prefer you
نُّؤْثِرَكَ
हम तरजीह देंगे तुझे
over
عَلَىٰ
उस पर जो
what
مَا
उस पर जो
has come to us
جَآءَنَا
आ गया हमारे पास
of
مِنَ
खुली निशानियों में से
the clear proofs
ٱلْبَيِّنَٰتِ
खुली निशानियों में से
and the One Who
وَٱلَّذِى
और उस पर जिसने
created us
فَطَرَنَاۖ
पैदा किया हमें
So decree
فَٱقْضِ
पस तू फ़ैसला कर दे
whatever
مَآ
जो
you
أَنتَ
तू
(are) decreeing
قَاضٍۖ
फ़ैसला करने वाला है
Only
إِنَّمَا
बेशक
you can decree
تَقْضِى
तू फ़ैसला कर सकता है
(for) this
هَٰذِهِ
इसी
life
ٱلْحَيَوٰةَ
दुनिया की ज़िन्दगी का
(of) the world
ٱلدُّنْيَآ
दुनिया की ज़िन्दगी का

Qaloo lan nuthiraka 'ala ma jaana mina albayyinati waallathee fatarana faiqdi ma anta qadin innama taqdee hathihi alhayata alddunya

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

उन्होंने कहा, 'जो स्पष्ट निशानियाँ हमारे सामने आ चुकी है उनके मुक़ाबले में सौगंध है उस सत्ता की, जिसने हमें पैदा किया है, हम कदापि तुझे प्राथमिकता नहीं दे सकते। तो जो कुछ तू फ़ैसला करनेवाला है, कर ले। तू बस इसी सांसारिक जीवन का फ़ैसला कर सकता है

English Sahih:

They said, "Never will we prefer you over what has come to us of clear proofs and [over] He who created us. So decree whatever you are to decree. You can only decree for this worldly life.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

जादूगर बोले कि ऐसे वाजेए व रौशन मौजिज़ात जो हमारे सामने आए उन पर और जिस (खुदा) ने हमको पैदा किया उस पर तो हम तुमको किसी तरह तरजीह नहीं दे सकते तो जो तुझे करना हो कर गुज़र तो बस दुनिया की (इसी ज़रा) ज़िन्दगी पर हुकूमत कर सकता है

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

उन्होंने कहाः हम तुझे कभी उन खुली निशानियों (तर्कों) पर प्रधानता नहीं देंगे, जो हमारे पास आ गयी हैं और न उस (अल्लाह) पर, जिसने हमें पैदा किया है, तू जो करना चाहे, कर ले, तू बस इसी सांसारिक जीवन में आदेश दे सकता है।