Skip to main content

अल-हज आयत ५६ | Al-Hajj 22:56

The Sovereignty
ٱلْمُلْكُ
बादशाहत
(on) that Day
يَوْمَئِذٍ
उस दिन ( होगी )
(will be) for Allah
لِّلَّهِ
अल्लाह के लिए
He will judge
يَحْكُمُ
वो फ़ैसला करेगा
between them
بَيْنَهُمْۚ
दर्मियान उनके
So those who
فَٱلَّذِينَ
पस वो लोग जो
believe
ءَامَنُوا۟
ईमान लाए
and did
وَعَمِلُوا۟
और उन्होंने अमल किए
righteous deeds
ٱلصَّٰلِحَٰتِ
नेक
(will be) in
فِى
जन्नतों में (होंगे)
Gardens
جَنَّٰتِ
जन्नतों में (होंगे)
(of) Delight
ٱلنَّعِيمِ
नेअमतों वाली

Almulku yawmaithin lillahi yahkumu baynahum faallatheena amanoo wa'amiloo alssalihati fee jannati alnna'eemi

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

उस दिन बादशाही अल्लाह ही की होगी। वह उनके बीच फ़ैसला कर देगा। अतः जो लोग ईमान लाए और उन्होंने अच्छे कर्म किए, वे नेमत भरी जन्नतों में होंगे

English Sahih:

[All] sovereignty that Day is for Allah; He will judge between them. So they who believed and did righteous deeds will be in the Gardens of Pleasure.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

उस दिन की हुकूमत तो ख़ास खुदा ही की होगी वह लोगों (के बाहमी एख्तेलाफ) का फ़ैसला कर देगा तो जिन लोगों ने ईमान कुबूल किया और अच्छे काम किए हैं वह नेअमतों के (भरे) हुए बाग़ात (बेहश्त) में रहेंगे

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

राज्य उस दिन अल्लाह ही का होगा, वही उनके बीच निर्णय करेगा, तो जो ईमान लाये और सदाचार किये, तो वे सुख के स्वर्गों में होंगे।