Skip to main content
A Surah -
سُورَةٌ
ये एक सूरत है
We (have) sent it down
أَنزَلْنَٰهَا
नाज़िल किया हमने इसे
and We (have) made it obligatory
وَفَرَضْنَٰهَا
और फ़र्ज़ किया हमने इसे
and We (have) revealed
وَأَنزَلْنَا
और नाज़िल कीं हमने
therein
فِيهَآ
इसमें
Verses
ءَايَٰتٍۭ
आयात
clear
بَيِّنَٰتٍ
वाज़ेह
so that you may
لَّعَلَّكُمْ
ताकि तुम
take heed
تَذَكَّرُونَ
तुम नसीहत पकड़ो

Sooratun anzalnaha wafaradnaha waanzalna feeha ayatin bayyinatin la'allakum tathakkaroona

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

यह एक (महत्वपूर्ण) सूरा है, जिसे हमने उतारा है। और इसे हमने अनिवार्य किया है, और इसमें हमने स्पष्ट आयतें (आदेश) अवतरित की है। कदाचित तुम शिक्षा ग्रहण करो

English Sahih:

[This is] a Surah which We have sent down and made [that within it] obligatory and revealed therein verses of clear evidence that you might remember.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

(ये) एक सूरा है जिसे हमने नाज़िल किया है और उस (के एहक़ाम) को फर्ज क़र दिया है और इसमें हमने वाज़ेए व रौशन आयतें नाज़िल की हैं ताकि तुम (ग़ौर करके) नसीहत हासिल करो

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

ये एक सूरह है, जिसे हमने उतारा तथा अनिवार्य किया है और उतारी हैं इसमें बहुत-सी खुली आयतें (निशानियाँ), ताकि तुम शिक्षा ग्रहण करो।