Skip to main content

अल-फुरकान आयत ७२ | Al-Furqan 25:72

And those who
وَٱلَّذِينَ
और वे जो
(do) not
لَا
नहीं वो गवाह बनते
bear witness
يَشْهَدُونَ
नहीं वो गवाह बनते
(to) the falsehood
ٱلزُّورَ
झूठ के
and when
وَإِذَا
और जब
they pass
مَرُّوا۟
वो गुज़र ते है
by futility
بِٱللَّغْوِ
लग़्व पर
they pass
مَرُّوا۟
वो गुज़र जाते हैं
(as) dignified ones
كِرَامًا
इज़्ज़त से

Waallatheena la yashhadoona alzzoora waitha marroo biallaghwi marroo kiraman

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

जो किसी झूठ और असत्य में सम्मिलित नहीं होते और जब किसी व्यर्थ के कामों के पास से गुज़रते है, तो श्रेष्ठतापूर्वक गुज़र जाते है,

English Sahih:

And [they are] those who do not testify to falsehood, and when they pass near ill speech, they pass by with dignity.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

और वह लोग जो फरेब के पास ही नही खड़े होते और वह लोग जब किसी बेहूदा काम के पास से गुज़रते हैं तो बुर्ज़ुगाना अन्दाज़ से गुज़र जाते हैं

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

तथा जो मिथ्या साक्ष्य नहीं देते और जब व्यर्थ के पास से गुज़रते हैं, तो सज्जन बनकर गुज़र जाते हैं।