Skip to main content

आले इमरान आयत १९६ | Aal-e-Imran 3:196

(Let) not
لَا
हरगिज़ ना धोखे में डाले आपको
deceive you
يَغُرَّنَّكَ
हरगिज़ ना धोखे में डाले आपको
(the) movement
تَقَلُّبُ
चलना फिरना
(of) those who
ٱلَّذِينَ
उनका जिन्होंने
disbelieved
كَفَرُوا۟
कुफ़्र किया
in
فِى
शहरों में
the land
ٱلْبِلَٰدِ
शहरों में

La yaghurrannaka taqallubu allatheena kafaroo fee albiladi

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

बस्तियों में इनकार करनेवालों की चलत-फिरत तुम्हें किसी धोखे में न डाले

English Sahih:

Be not deceived by the [uninhibited] movement of the disbelievers throughout the land.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

(ऐ रसूल) काफ़िरों का शहरों शहरों चैन करते फिरना तुम्हे धोखे में न डाले

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

(हे नबी!) नगरों में काफ़िरों का (सुविधा के साथ) फिरना आपको धोखे में न डाल दे।