Skip to main content

आले इमरान आयत ९३ | Aal-e-Imran 3:93

All
كُلُّ
हर
[the] food
ٱلطَّعَامِ
खाना
was
كَانَ
था
lawful
حِلًّا
हलाल
for (the) Children
لِّبَنِىٓ
बनी इस्राईल के लिए
(of) Israel
إِسْرَٰٓءِيلَ
बनी इस्राईल के लिए
except
إِلَّا
मगर
what
مَا
जो
made unlawful
حَرَّمَ
हराम किया
Israel
إِسْرَٰٓءِيلُ
इस्राईल ने
upon
عَلَىٰ
अपने नफ़्स पर
himself
نَفْسِهِۦ
अपने नफ़्स पर
[from]
مِن
इससे पहले
before
قَبْلِ
इससे पहले
[that]
أَن
कि
(was) revealed
تُنَزَّلَ
नाज़िल की जाती
the Taurat
ٱلتَّوْرَىٰةُۗ
तौरात
Say
قُلْ
कह दीजिए
"So bring
فَأْتُوا۟
पस ले आओ
the Taurat
بِٱلتَّوْرَىٰةِ
तौरात को
and recite it
فَٱتْلُوهَآ
फिर पढ़ो उसे
if
إِن
अगर
you are
كُنتُمْ
हो तुम
truthful"
صَٰدِقِينَ
सच्चे

Kullu altta'ami kana hillan libanee israeela illa ma harrama israeelu 'ala nafsihi min qabli an tunazzala alttawratu qul fatoo bialttawrati faotlooha in kuntum sadiqeena

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

खाने की सारी चीज़े इसराईल की संतान के लिए हलाल थी, सिवाय उन चीज़ों के जिन्हें तौरात के उतरने से पहले इसराईल ने स्वयं अपने हराम कर लिया था। कहो, 'यदि तुम सच्चे हो तो तौरात लाओ और उसे पढ़ो।'

English Sahih:

All food was lawful to the Children of Israel except what Israel [i.e., Jacob] had made unlawful to himself before the Torah was revealed. Say, [O Muhammad], "So bring the Torah and recite it, if you should be truthful."

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

सी चीज़ भी ख़र्च करो ख़ुदा तो उसको ज़रूर जानता है तौरैत के नाज़िल होने के क़ब्ल याकूब ने जो जो चीज़े अपने ऊपर हराम कर ली थीं उनके सिवा बनी इसराइल के लिए सब खाने हलाल थे (ऐ रसूल उन यहूद से) कह दो कि अगर तुम (अपने दावे में सच्चे हो तो तौरेत ले आओ

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

प्रत्येक खाद्य पदार्थ बनी इस्राईल[1] के लिए ह़लाल (वैध) थे, परन्तु जिसे इस्राईल ने अपने ऊपर ह़राम (अवैध) कर लिया, इससे पहले कि तौरात उतारी जाये। (हे नबी!) कहो कि तौरात लाओ तथा उसे पढ़ो, यदि तुम सत्यवादि हो।