Skip to main content

अर-रूम आयत १२ | Ar-Rum 30:12

And (the) Day
وَيَوْمَ
और जिस दिन
will (be) established
تَقُومُ
क़ायम होगी
the Hour
ٱلسَّاعَةُ
क़यामत
will (be in) despair
يُبْلِسُ
नाउम्मीद हो जाऐंगे
the criminals
ٱلْمُجْرِمُونَ
मुजरिम

Wayawma taqoomu alssa'atu yublisu almujrimoona

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

जिस दिन वह घड़ी आ खड़ी होगी, उस दिन अपराधी एकदम निराश होकर रह जाएँगे

English Sahih:

And the Day the Hour appears the criminals will be in despair.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

और जिस दिन क़यामत बरपा होगी (उस दिन) गुनेहगार लोग ना उम्मीद होकर रह जाएँगे

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

और जब स्थापित होगी प्रलय, तो निराश[1] हो जायेंगे अपराधी।