Skip to main content

अर-रूम आयत ६० | Ar-Rum 30:60

So be patient
فَٱصْبِرْ
पस सब्र कीजिए
Indeed
إِنَّ
बेशक
(the) Promise
وَعْدَ
वादा
(of) Allah
ٱللَّهِ
अल्लाह का
(is) true
حَقٌّۖ
सच्चा है
And (let) not
وَلَا
और हरगिज़ ना हल्का पाऐं आपको
take you in light estimation
يَسْتَخِفَّنَّكَ
और हरगिज़ ना हल्का पाऐं आपको
those who
ٱلَّذِينَ
वो लोग जो
(are) not
لَا
नहीं वो यक़ीन रखते
certain in faith
يُوقِنُونَ
नहीं वो यक़ीन रखते

Faisbir inna wa'da Allahi haqqun wala yastakhiffannaka allatheena la yooqinoona

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

अतः धैर्य से काम लो निश्चय ही अल्लाह का वादा सच्चा है और जिन्हें विश्वास नहीं, वे तुम्हें कदापि हल्का न पाएँ

English Sahih:

So be patient. Indeed, the promise of Allah is truth. And let them not disquiet you who are not certain [in faith].

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

तो (ऐ रसूल) तुम सब्र करो बेशक ख़ुदा का वायदा सच्चा है और (कहीं) ऐसा न हो कि जो (तुम्हारी) तसदीक़ नहीं करते तुम्हें (बहका कर) ख़फ़ीफ़ करे दें

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

तो आप सहन करें, वास्तव में, अल्लाह का वचन सत्य है और कदापि वो आप[1] को हल्का न समझें, जो विश्वास नहीं रखते।