Skip to main content

अस-सजदा आयत २२ | As-Sajda 32:22

And who
وَمَنْ
और कौन
(is) more unjust
أَظْلَمُ
बड़ा ज़ालिम है
than (he) who
مِمَّن
उससे जो
is reminded
ذُكِّرَ
नसीहत किया गया
of (the) Verses
بِـَٔايَٰتِ
साथ आयात के
(of) his Lord
رَبِّهِۦ
अपने रब की
then
ثُمَّ
फिर
he turns away
أَعْرَضَ
उसने मुँह मोड़ लिया
from them?
عَنْهَآۚ
उनसे
Indeed We
إِنَّا
बेशक हम
from
مِنَ
मुजरिमों से
the criminals
ٱلْمُجْرِمِينَ
मुजरिमों से
(will) take retribution
مُنتَقِمُونَ
इन्तिक़ाम लेने वाले हैं

Waman athlamu mimman thukkira biayati rabbihi thumma a'rada 'anha inna mina almujrimeena muntaqimoona

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

और उस व्यक्ति से बढकर अत्याचारी कौन होगा जिसे उसके रब की आयतों के द्वारा याद दिलाया जाए,फिर वह उनसे मुँह फेर ले? निश्चय ही हम अपराधियों से बदला लेकर रहेंगे

English Sahih:

And who is more unjust than one who is reminded of the verses of his Lord; then he turns away from them? Indeed We, from the criminals, will take retribution.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

और जिस शख़्श को उसके परवरदिगार की आयतें याद दिलायी जाएँ और वह उनसे मुँह फेर उससे बढ़कर और ज़ालिम कौन होगा हम गुनाहगारों से इन्तक़ाम लेगें और ज़रुर लेंगे

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

और उससे अधिक अत्याचारी कौन है, जिसे शिक्षा दी जाये उसके पालनहार की आयतों द्वारा, फिर विमुख हो जाये उनसे? वास्तव में, हम अपराधियों से बदला लेने वाले हैं।