Skip to main content

अल-अह्जाब आयत २३ | Al-Ahzab 33:23

Among
مِّنَ
मोमिनों में से
the believers
ٱلْمُؤْمِنِينَ
मोमिनों में से
(are) men
رِجَالٌ
कुछ मर्द हैं
(who) have been true
صَدَقُوا۟
जिन्होंने सच्चा कर दिया
(to) what
مَا
जो
they promised Allah
عَٰهَدُوا۟
उन्होंने अहद किया था
they promised Allah
ٱللَّهَ
अल्लाह से
[on it]
عَلَيْهِۖ
जिस पर
And among them
فَمِنْهُم
तो उनमें से वो है
(is he) who
مَّن
जो
has fulfilled
قَضَىٰ
पूरी कर चुका
his vow
نَحْبَهُۥ
नज़र अपनी
and among them
وَمِنْهُم
और उनमें से कोई है
(is he) who
مَّن
जो
awaits
يَنتَظِرُۖ
मुन्तज़िर है
And not
وَمَا
और नहीं
they alter
بَدَّلُوا۟
उन्होंने तब्दीली की
(by) any alteration
تَبْدِيلًا
तब्दीली करना

Mina almumineena rijalun sadaqoo ma 'ahadoo Allaha 'alayhi faminhum man qada nahbahu waminhum man yantathiru wama baddaloo tabdeelan

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

ईमानवालों के रूप में ऐसे पुरुष मौजूद है कि जो प्रतिज्ञा उन्होंने अल्लाह से की थी उसे उन्होंने सच्चा कर दिखाया। फिर उनमें से कुछ तो अपना प्रण पूरा कर चुके और उनमें से कुछ प्रतीक्षा में है। और उन्होंने अपनी बात तनिक भी नहीं बदली

English Sahih:

Among the believers are men true to what they promised Allah. Among them is he who has fulfilled his vow [to the death], and among them is he who awaits [his chance]. And they did not alter [the terms of their commitment] by any alteration –

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

ईमानदारों में से कुछ लोग ऐसे भी हैं कि खुदा से उन्होंने (जॉनिसारी का) जो एहद किया था उसे पूरा कर दिखाया ग़रज़ उनमें से बाज़ वह हैं जो (मर कर) अपना वक्त पूरा कर गए और उनमें से बाज़ (हुक्मे खुदा के) मुन्तज़िर बैठे हैं और उन लोगों ने (अपनी बात) ज़रा भी नहीं बदली

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

ईमान वालों में कुछ वे भी हैं, जिन्होंने सच कर दिखाया अल्लाह से किये हुए अपने वचन को। तो उनमें कुछ ने अपना वचन[1] पूरा कर दिया और उनमें से कुछ प्रतीक्षा कर रहे हैं और उन्होंने तनिक भी परिवर्तन नहीं किया।