Skip to main content

अन-निसा आयत १६५ | An-Nisa 4:165

Messengers
رُّسُلًا
रसूल थे (ये)
bearers of glad tidings
مُّبَشِّرِينَ
ख़ुशख़बरी देने वाले
and warners
وَمُنذِرِينَ
और डराने वाले
so that not
لِئَلَّا
ताकि ना
there is
يَكُونَ
हो
for the mankind
لِلنَّاسِ
लोगों के लिए
against
عَلَى
अल्लाह पर
Allah
ٱللَّهِ
अल्लाह पर
any argument
حُجَّةٌۢ
कोई हुज्जत
after
بَعْدَ
बाद
the Messengers
ٱلرُّسُلِۚ
रसूलों के
And is
وَكَانَ
और है
Allah
ٱللَّهُ
अल्लाह
All-Mighty
عَزِيزًا
बहुत ज़बरदस्त
All-Wise
حَكِيمًا
ख़ूब हिकमत वाला

Rusulan mubashshireena wamunthireena lialla yakoona lilnnasi 'ala Allahi hujjatun ba'da alrrusuli wakana Allahu 'azeezan hakeeman

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

रसूल शुभ समाचार देनेवाले और सचेत करनेवाले बनाकर भेजे गए है, ताकि रसूलों के पश्चात लोगों के पास अल्लाह के मुक़ाबले में (अपने निर्दोष होने का) कोई तर्क न रहे। अल्लाह अत्यन्त प्रभुत्वशाली, तत्वदर्शी है

English Sahih:

[We sent] messengers as bringers of good tidings and warners so that mankind will have no argument against Allah after the messengers. And ever is Allah Exalted in Might and Wise.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

और हमने नेक लोगों को बेहिश्त की ख़ुशख़बरी देने वाले और बुरे लोगों को अज़ाब से डराने वाले पैग़म्बर (भेजे) ताकि पैग़म्बरों के आने के बाद लोगों की ख़ुदा पर कोई हुज्जत बाक़ी न रह जाए और ख़ुदा तो बड़ा ज़बरदस्त हकीम है (ये कुफ्फ़ार नहीं मानते न मानें)

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

ये सभी रसूल शुभ सूचना सुनाने वाले और डराने वाले थे, ताकि इन रसूलों के (आगमन के) पश्चात् लोगों के लिए अल्लाह पर कोई तर्क न रह[1] जाये और अल्लाह प्रभुत्वशाली तत्वज्ञ है।