Skip to main content

अन-निसा आयत ३३ | An-Nisa 4:33

And for all
وَلِكُلٍّ
और हर एक के लिए
We (have) made
جَعَلْنَا
बना दिए हमने
heirs
مَوَٰلِىَ
वारिस
of what
مِمَّا
उसमें से जो
(is) left
تَرَكَ
छोड़ जाऐं
(by) the parents
ٱلْوَٰلِدَانِ
वालिदैन
and the relatives
وَٱلْأَقْرَبُونَۚ
और रिश्तेदार
And those whom
وَٱلَّذِينَ
और वो जिनको
pledged
عَقَدَتْ
बाँध रखा है
your right hands -
أَيْمَٰنُكُمْ
तुम्हारे अहदो पैमान ने
then give them
فَـَٔاتُوهُمْ
पस दो तुम उन्हें
their share
نَصِيبَهُمْۚ
हिस्सा उनका
Indeed
إِنَّ
बेशक
Allah
ٱللَّهَ
अल्लाह
is
كَانَ
है
over
عَلَىٰ
ऊपर
every
كُلِّ
हर
thing
شَىْءٍ
चीज़ के
a Witness
شَهِيدًا
ख़ूब गवाह

Walikullin ja'alna mawaliya mimma taraka alwalidani waalaqraboona waallatheena 'aqadat aymanukum faatoohum naseebahum inna Allaha kana 'ala kulli shayin shaheedan

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

और प्रत्येक माल के लिए, जो माँ-बाप और नातेदार छोड़ जाएँ, हमने वासिस ठहरा दिए है और जिन लोगों से अपनी क़समों के द्वारा तुम्हारा पक्का मामला हुआ हो, तो उन्हें भी उनका हिस्सा दो। निस्संदेह हर चीज़ अल्लाह के समक्ष है

English Sahih:

And for all, We have made heirs to what is left by parents and relatives. And to those whom your oaths have bound [to you] – give them their share. Indeed Allah is ever, over all things, a Witness.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

और मां बाप (या) और क़राबतदार (ग़रज़) तो शख्स जो तरका छोड़ जाए हमने हर एक का (वाली) वारिस मुक़र्रर कर दिया है और जिन लोगों से तुमने मुस्तहकम (पक्का) एहद किया है उनका मुक़र्रर हिस्सा भी तुम दे दो बेशक ख़ुदा तो हर चीज़ पर गवाह है

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

और हमने प्रत्येक के लिए वारिस (उत्तराधिकारी) बना दिये हैं, उसमें से जो माता-पिता तथा समीपवर्तियों ने छोड़ा हो तथा जिनसे तुमने समझौता[1] किया हो, उन्हें उनका भाग दो। वास्तव में, अल्लाह प्रत्येक चीज़ से सूचित है।