Skip to main content

अद-दुखान आयत १८ | Ad-Dukhan 44:18

That
أَنْ
ये कि
"Deliver
أَدُّوٓا۟
हवाले कर दो
to me
إِلَىَّ
मेरी तरफ़
(the) servants
عِبَادَ
बन्दों को
(of) Allah
ٱللَّهِۖ
अल्लाह के
Indeed I am
إِنِّى
बेशक मैं
to you
لَكُمْ
तुम्हारे लिए
a Messenger
رَسُولٌ
एक रसूल हूँ
trustworthy
أَمِينٌ
अमानतदार

An addoo ilayya 'ibada Allahi innee lakum rasoolun ameenun

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

कि 'तुम अल्लाह के बन्दों को मेरे हवाले कर दो। निश्चय ही मै तुम्हारे लिए एक विश्वसनीय रसूल हूँ

English Sahih:

[Saying], "Render to me the servants of Allah. Indeed, I am to you a trustworthy messenger,"

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

(और कहा) कि ख़ुदा के बन्दों (बनी इसराईल) को मेरे हवाले कर दो मैं (ख़ुदा की तरफ से) तुम्हारा एक अमानतदार पैग़म्बर हूँ

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

कि मुझे सौंप दो अल्लाह के भक्तों को। निश्चय मैं तुम्हारे लिए एक अमानतदार रसूल हूँ।