Skip to main content

अल-इन्शिकाक आयत ५ | Al-Inshiqaq 84:5

And has listened
وَأَذِنَتْ
और वो कान लगाए हुए है
to its Lord
لِرَبِّهَا
अपने रब के लिए
and was obligated
وَحُقَّتْ
और वो हक़ दी गई है

Waathinat lirabbiha wahuqqat

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

और वह अपने रब की सुनेगी, और उसे यही चाहिए भी

English Sahih:

And has listened [i.e., responded] to its Lord and was obligated [to do so] –

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

और अपने परवरदिगार का हुक्म बजा लाएगी

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

और अपने पालनहार की सुनेगी और यही उसे करना भी चाहिये।[1]