Skip to main content

युनुस आयत ७४ | Yunus 10:74

Then
ثُمَّ
फिर
We sent
بَعَثْنَا
भेजे हमने
after him
مِنۢ
बाद इसके
after him
بَعْدِهِۦ
बाद इसके
Messengers
رُسُلًا
कई रसूल
to
إِلَىٰ
तरफ़ उनकी क़ौम के
their people
قَوْمِهِمْ
तरफ़ उनकी क़ौम के
and they came to them
فَجَآءُوهُم
तो वो आए उनके पास
with clear proofs
بِٱلْبَيِّنَٰتِ
साथ वाज़ेह दलाइल के
But not
فَمَا
तो ना
they were
كَانُوا۟
थे वो
to believe
لِيُؤْمِنُوا۟
कि वो ईमान लाते
what
بِمَا
बवजह उसके जो
they had denied
كَذَّبُوا۟
वो झुठला चुके थे
[it]
بِهِۦ
उसे
before
مِن
इससे पहले
before
قَبْلُۚ
इससे पहले
Thus
كَذَٰلِكَ
इसी तरह
We seal
نَطْبَعُ
हम मोहर लगा देते हैं
[on]
عَلَىٰ
दिलों पर
the hearts
قُلُوبِ
दिलों पर
(of) the transgressors
ٱلْمُعْتَدِينَ
हद से तजावुज़ करने वालों के

Thumma ba'athna min ba'dihi rusulan ila qawmihim fajaoohum bialbayyinati fama kanoo liyuminoo bima kaththaboo bihi min qablu kathalika natba'u 'ala quloobi almu'tadeena

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

फिर उसके बाद कितने ही रसूल हमने उनकी क़ौम की ओर भेजे और वे उनके पास स्पष्ट निशानियां लेकर आए, किन्तु वे ऐसे न थे कि जिसको पहले झुठला चुके हॊं, उसे मानते। इसी तरह अतिक्रमणकारियों कॆ दिलों पर हम मुहर लगा देते हैं

English Sahih:

Then We sent after him messengers to their peoples, and they came to them with clear proofs. But they were not to believe in that which they had denied before. Thus We seal over the hearts of the transgressors.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

फिर ज़रा ग़ौर तो करो फिर हमने नूह के बाद और रसूलों को अपनी क़ौम के पास भेजा तो वह पैग़म्बर उनके पास वाजेए (खुले हुए) व रौशन मौजिज़े लेकर आए इस पर भी जिस चीज़ को ये लोग पहले झुठला चुके थे उस पर ईमान (न लाना था) न लाए हम यूंही हद से गुज़र जाने वालों के दिलों पर (गोया) खुद मोहर कर देते हैं

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

फिर हमने उस (नूह़) के पश्चात बहुत-से रसूलों को, उनकी जाति के पास भेजा, वे उनके पास खुली निशानियाँ (तर्क) लाये, तो वे ऐसे न थे कि जिसे पहले झुठला दिया था, उसपर ईमान लाते, इसी प्रकार, हम उल्लंघनकारियों के दिलों पर मुहर[1] लगा देते हैं।