Skip to main content

अल-माऊन आयत ५ | Al-Ma’un 107:5

Those who
ٱلَّذِينَ
वो जो
[they]
هُمْ
वो
of
عَن
अपनी नमाज़ों से
their prayers
صَلَاتِهِمْ
अपनी नमाज़ों से
(are) neglectful
سَاهُونَ
गाफ़िल हैं

Allatheena hum 'an salatihim sahoona

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

जो अपनी नमाज़ से ग़ाफिल (असावधान) हैं,

English Sahih:

[But] who are heedless of their prayer.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

जो अपनी नमाज़ से ग़ाफिल रहते हैं

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

जो अपनी नमाज़ से अचेत हैं।