Skip to main content
And for Allah
وَلِلَّهِ
और अल्लाह ही के लिए है
(is the) unseen
غَيْبُ
ग़ैब
(of) the heavens
ٱلسَّمَٰوَٰتِ
आसमानों का
and the earth
وَٱلْأَرْضِ
और ज़मीन का
and to Him
وَإِلَيْهِ
और तरफ़ उसी के
will be returned
يُرْجَعُ
लौटाया जाता है
the matter
ٱلْأَمْرُ
मामला
all (of) it
كُلُّهُۥ
सारे का सारा
so worship Him
فَٱعْبُدْهُ
पस इबादत कीजिए उसकी
and put your trust
وَتَوَكَّلْ
और तवक्कल कीजिए
upon Him
عَلَيْهِۚ
उस पर
And your Lord is not
وَمَا
और नहीं
And your Lord is not
رَبُّكَ
रब आपका
unaware
بِغَٰفِلٍ
ग़ाफ़िल
of what
عَمَّا
उससे जो
you do
تَعْمَلُونَ
तुम अमल करते हो

Walillahi ghaybu alssamawati waalardi wailayhi yurja'u alamru kulluhu fao'budhu watawakkal 'alayhi wama rabbuka bighafilin 'amma ta'maloona

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

अल्लाह ही का है जो कुछ आकाशों और धरती में छिपा है, और हर मामला उसी की ओर पलटता है। अतः उसी की बन्दगी करो और उसी पर भरोसा रखो। जो कुछ तुम करते हो, उससे तुम्हारा रब बेख़बर नहीं है

English Sahih:

And to Allah belong the unseen [aspects] of the heavens and the earth and to Him will be returned the matter, all of it, so worship Him and rely upon Him. And your Lord is not unaware of that which you do.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

और सारे आसमान व ज़मीन की पोशीदा बातों का इल्म ख़ास ख़ुदा ही को है और उसी की तरफ हर काम हिर फिर कर लौटता है तुम उसी की इबादत करो और उसी पर भरोसा रखो और जो कुछ तुम लोग करते हो उससे ख़ुदा बेख़बर नहीं

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

अल्लाह ही के अधिकार में आकाशों तथा धरती की छिपी हुई चीज़ों का ज्ञान है और प्रत्येक विषय उसी की ओर लोटाये जाते हैं। अतः आप उसी की इबादत (वंदना) करें और उसीपर निर्भर रहें। आपका पालनहार उससे अचेत नहीं है, जो तुम कर रहे हो।