Skip to main content

मरियम आयत ३२ | Mariyam 19:32

And dutiful
وَبَرًّۢا
और नेक सुलूक करने वाला
to my mother
بِوَٰلِدَتِى
अपनी वालिदा से
and not
وَلَمْ
और नहीं
He (has) made me
يَجْعَلْنِى
उसने बनाया मुझे
insolent
جَبَّارًا
सरकश
unblessed
شَقِيًّا
बदबख़्त

Wabarran biwalidatee walam yaj'alnee jabbaran shaqiyyan

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

और अपनी माँ का हक़ अदा करनेवाला बनाया। और उसने मुझे सरकश और बेनसीब नहीं बनाया

English Sahih:

And [made me] dutiful to my mother, and He has not made me a wretched tyrant.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

और (अलहमदोलिल्लाह कि) मुझको सरकश नाफरमान नहीं बनाया

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

तथा आपनी माँ का सेवक (बनाया है) और उसने मुझे क्रूर तथा अभागा[1] नहीं बनाया है।