Skip to main content

अत-तहा आयत ४२ | At-Tahaa 20:42

Go
ٱذْهَبْ
जाओ
you
أَنتَ
तुम
and your brother
وَأَخُوكَ
और भाई तुम्हारा
with My Signs
بِـَٔايَٰتِى
साथ मेरी निशानियों के
and (do) not
وَلَا
और ना
slacken
تَنِيَا
तुम दोनों सुस्ती करना
in
فِى
मेरी याद में
My remembrance
ذِكْرِى
मेरी याद में

Ithhab anta waakhooka biayatee wala taniya fee thikree

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

जो, तू और तेरी भाई मेरी निशानियो के साथ; और मेरी याद में ढ़ीले मत पड़ना

English Sahih:

Go, you and your brother, with My signs and do not slacken in My remembrance.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

तुम अपने भाई समैत हमारे मौजिज़े लेकर जाओ और (देखो) मेरी याद में सुस्ती न करना

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

जा तू और तेरा भाई, मेरी निशानियाँ लेकर और दोनों आलस्य न करना मेरे स्मरण (याद) में।