Skip to main content

अल-मुमिनून आयत ९८ | Al-Mu’minun 23:98

And I seek refuge
وَأَعُوذُ
और मैं पनाह लेता हूँ तेरी
in You
بِكَ
और मैं पनाह लेता हूँ तेरी
My Lord!
رَبِّ
ऐ मेरे रब
Lest
أَن
इस से कि
they be present with me"
يَحْضُرُونِ
वो हाज़िर हों मेरे पास

Waa'oothu bika rabbi an yahdurooni

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

और मेरे रब! मैं इससे भी तेरी शरण चाहता हूँ कि वे मेरे पास आएँ।' -

English Sahih:

And I seek refuge in You, my Lord, lest they be present with me."

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

और ऐ मेरे परवरदिगार इससे भी तेरी पनाह माँगता हूँ कि शयातीन मेरे पास आएँ

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

तथा मैं तेरी शरण माँगता हूँ, मेरे पालनहार! कि वे मेरे पास आयें।