Skip to main content

अल-मुमिनून आयत ९९ | Al-Mu’minun 23:99

Until
حَتَّىٰٓ
यहाँ तक कि
when
إِذَا
जब
comes
جَآءَ
आ जाएगी
(to) one of them
أَحَدَهُمُ
उनमें से एक को
the death
ٱلْمَوْتُ
मौत
he says
قَالَ
कहेगा
"My Lord!
رَبِّ
ऐ मेरे रब
Send me back
ٱرْجِعُونِ
वापस लौटा दो मुझे

Hatta itha jaa ahadahumu almawtu qala rabbi irji'ooni

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

यहाँ तक कि जब उनमें से किसी की मृत्यु आ गई तो वह कहेगा, 'ऐ मेरे रब! मुझे लौटा दे। - ताकि जिस (संसार) को मैं छोड़ आया हूँ

English Sahih:

[For such is the state of the disbelievers] until, when death comes to one of them, he says, "My Lord, send me back.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

(और कुफ्फ़ार तो मानेगें नहीं) यहाँ तक कि जब उनमें से किसी को मौत आयी तो कहने लगे परवरदिगार तू मुझे (एक बार) उस मुक़ाम (दुनिया) में छोड़ आया हूँ फिर वापस कर दे ताकि मै (अपकी दफ़ा) अच्छे अच्छे काम करूं

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

यहाँतक कि जब उनमें किसी की मौत आने लगे, तो कहता हैः मेरे पालनहार! मुझे (संसार में) वापस कर दे[1]।