Skip to main content
bismillah
قَدْ
यक़ीनन
أَفْلَحَ
फ़लाह पा गए
ٱلْمُؤْمِنُونَ
ईमान लाने वाले

Qad aflaha almuminoona

सफल हो गए ईमानवाले,

Tafseer (तफ़सीर )
ٱلَّذِينَ
वो लोग जो
هُمْ
वो
فِى
अपनी नमाज़ में
صَلَاتِهِمْ
अपनी नमाज़ में
خَٰشِعُونَ
ख़ुशूअ करने वाले

Allatheena hum fee salatihim khashi'oona

जो अपनी नमाज़ों में विनम्रता अपनाते है;

Tafseer (तफ़सीर )
وَٱلَّذِينَ
और वो जो
هُمْ
वो
عَنِ
लग़्व बात से
ٱللَّغْوِ
लग़्व बात से
مُعْرِضُونَ
ऐराज़ करने वाले हैं

Waallatheena hum 'ani allaghwi mu'ridoona

और जो व्यर्थ बातों से पहलू बचाते है;

Tafseer (तफ़सीर )
وَٱلَّذِينَ
और वो जो
هُمْ
वो
لِلزَّكَوٰةِ
ज़कात को
فَٰعِلُونَ
(अदा) करने वाले हैं

Waallatheena hum lilzzakati fa'iloona

और जो ज़कात अदा करते है;

Tafseer (तफ़सीर )
وَٱلَّذِينَ
और वो जो
هُمْ
वो
لِفُرُوجِهِمْ
अपनी शर्मगाहों की
حَٰفِظُونَ
हिफ़ाज़त करने वाले हैं

Waallatheena hum lifuroojihim hafithoona

और जो अपने गुप्तांगों की रक्षा करते है-

Tafseer (तफ़सीर )
إِلَّا
मगर
عَلَىٰٓ
ऊपर
أَزْوَٰجِهِمْ
अपनी बीवियों के
أَوْ
या
مَا
जिनके
مَلَكَتْ
मालिक हुए
أَيْمَٰنُهُمْ
उनके दाऐं हाथ
فَإِنَّهُمْ
तो बेशक वो
غَيْرُ
नहीं
مَلُومِينَ
मलामत किए गए

Illa 'ala azwajihim aw ma malakat aymanuhum fainnahum ghayru maloomeena

सिवाय इस सूरत के कि अपनी पत्नि यों या लौंडियों के पास जाएँ कि इसपर वे निन्दनीय नहीं है

Tafseer (तफ़सीर )
فَمَنِ
तो जो कोई
ٱبْتَغَىٰ
चाहे
وَرَآءَ
अलावा
ذَٰلِكَ
इसके
فَأُو۟لَٰٓئِكَ
तो यही लोग हैं
هُمُ
वो
ٱلْعَادُونَ
जो हद से गुज़रने वाले हैं

Famani ibtagha waraa thalika faolaika humu al'adoona

परन्तु जो कोई इसके अतिरिक्त कुछ और चाहे तो ऐसे ही लोग सीमा उल्लंघन करनेवाले है।-

Tafseer (तफ़सीर )
وَٱلَّذِينَ
और वो जो
هُمْ
वो
لِأَمَٰنَٰتِهِمْ
अपनी अमानतों को
وَعَهْدِهِمْ
और अपने अहद की
رَٰعُونَ
निगरानी करने वाले हैं

Waallatheena hum liamanatihim wa'ahdihim ra'oona

और जो अपनी अमानतों और अपनी प्रतिज्ञा का ध्यान रखते है;

Tafseer (तफ़सीर )
وَٱلَّذِينَ
और वो जो
هُمْ
वो
عَلَىٰ
अपनी नमाज़ों पर
صَلَوَٰتِهِمْ
अपनी नमाज़ों पर
يُحَافِظُونَ
वो हिफ़ाज़त करते हैं

Waallatheena hum 'ala salawatihim yuhafithoona

और जो अपनी नमाज़ों की रक्षा करते हैं;

Tafseer (तफ़सीर )
أُو۟لَٰٓئِكَ
यही लोग हैं
هُمُ
वो
ٱلْوَٰرِثُونَ
जो वारिस हैं

Olaika humu alwarithoona

वही वारिस होने वाले है

Tafseer (तफ़सीर )
कुरान की जानकारी :
अल-मुमिनून
القرآن الكريم:المؤمنون
आयत सजदा (سجدة):-
सूरा (latin):Al-Mu'minun
सूरा:23
कुल आयत:118
कुल शब्द:1840
कुल वर्ण:4800
रुकु:6
वर्गीकरण:मक्कन सूरा
Revelation Order:74
से शुरू आयत:2673