Skip to main content

अल-मुमिनून आयत ५ | Al-Mu’minun 23:5

And those who
وَٱلَّذِينَ
और वो जो
[they]
هُمْ
वो
of their modesty
لِفُرُوجِهِمْ
अपनी शर्मगाहों की
(are) guardians
حَٰفِظُونَ
हिफ़ाज़त करने वाले हैं

Waallatheena hum lifuroojihim hafithoona

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

और जो अपने गुप्तांगों की रक्षा करते है-

English Sahih:

And they who guard their private parts.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

और जो (अपनी) शर्मगाहों को (हराम से) बचाते हैं

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

और जो अपने गुप्तांगों की रक्षा करने वाले हैं।