Skip to main content

अल-फुरकान आयत २३ | Al-Furqan 25:23

And We will proceed
وَقَدِمْنَآ
और आऐंगे हम
to
إِلَىٰ
तरफ़ उसके जो
whatever
مَا
तरफ़ उसके जो
they did
عَمِلُوا۟
उन्होंने अमल किए
of
مِنْ
कोई भी अमल
(the) deed(s)
عَمَلٍ
कोई भी अमल
and We will make them
فَجَعَلْنَٰهُ
तो हम बना देंगे उसे
(as) dust
هَبَآءً
ग़ुबार
dispersed
مَّنثُورًا
परागन्दा

Waqadimna ila ma 'amiloo min 'amalin faja'alnahu habaan manthooran

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

हम बढ़ेंगे उस कर्म की ओर जो उन्होंने किया होगा और उसे उड़ती धूल कर देंगे

English Sahih:

And We will approach [i.e., regard] what they have done of deeds and make them as dust dispersed.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

और उन लोगों ने (दुनिया में) जो कुछ नेक काम किए हैं हम उसकी तरफ तवज्जों करेंगें तो हम उसको (गोया) उड़ती हुई ख़ाक बनाकर (बरबाद कर) देगें

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

और उनके कर्मों[1] को हम लेकर धूल के समान उड़ा देंगे।