Skip to main content

अस-शुआरा आयत ६ | Ash-Shu’ara 26:6

So verily
فَقَدْ
पस तहक़ीक़
they have denied
كَذَّبُوا۟
उन्होंने झुठला दिया
then will come to them
فَسَيَأْتِيهِمْ
तो अनक़रीब आऐंगी उनके पास
the news
أَنۢبَٰٓؤُا۟
ख़बरें
(of) what
مَا
उसकी जो
they used
كَانُوا۟
थे वो
at it
بِهِۦ
उसका
(to) mock
يَسْتَهْزِءُونَ
वो मज़ाक़ उड़ाते

Faqad kaththaboo fasayateehim anbao ma kanoo bihi yastahzioona

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

अब जबकि वे झुठला चुके है, तो शीघ्र ही उन्हें उसकी हक़ीकत मालूम हो जाएगी, जिसका वे मज़ाक़ उड़ाते रहे है

English Sahih:

For they have already denied, but there will come to them the news of that which they used to ridicule.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

उन लोगों ने झुठलाया ज़रुर तो अनक़रीब ही (उन्हें) इस (अज़ाब) की हक़ीकत मालूम हो जाएगी जिसकी ये लोग हँसी उड़ाया करते थे

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

तो उन्होंने झुठला दिया! अब उनके पास शीघ्र ही उसकी सूचनाएँ आ जायेंगी, जिसका उपहास वे कर रहे थे।