Skip to main content

अल-अह्जाब आयत २ | Al-Ahzab 33:2

And follow
وَٱتَّبِعْ
और पैरवी कीजिए
what
مَا
उसकी जो
is inspired
يُوحَىٰٓ
वही की जाती
to you
إِلَيْكَ
तरफ़ आपके
from
مِن
आपके रब की तरफ़ से
your Lord
رَّبِّكَۚ
आपके रब की तरफ़ से
Indeed
إِنَّ
बेशक
Allah
ٱللَّهَ
अल्लाह
is
كَانَ
है
of what
بِمَا
उसकी जो
you do
تَعْمَلُونَ
तुम अमल करते हो
All-Aware
خَبِيرًا
ख़ूब ख़बर रखने वाला

Waittabi' ma yooha ilayka min rabbika inna Allaha kana bima ta'maloona khabeeran

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

और अनुकरण करना उस चीज़ का जो तुम्हारे रब की ओर से तुम्हें प्रकाशना की जा रही है। निश्चय ही अल्लाह उसकी ख़बर रखता है जो तुम करते हो

English Sahih:

And follow that which is revealed to you from your Lord. Indeed Allah is ever, of what you do, Aware.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

और तुम्हारे परवरदिगार की तरफ से तुम्हारे पास जो ''वही'' की जाती है (बस) उसी की पैरवी करो तुम लोग जो कुछ कर रहे हो खुदा उससे यक़ीनी अच्छा तरह आगाह है।

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

तथा पालन करो उसका, जो वह़्यी (प्रकाशना) की जा रही है आपकी ओर आपके पालनहार की ओर से। निश्चय अल्लाह जो तुम कर रहे हो, उससे सूचित है।