Skip to main content
And not
وَمَا
और ना
was
كَانَ
था
for him
لَهُۥ
उसका
over them
عَلَيْهِم
उन पर
any
مِّن
कोई ज़ोर
authority
سُلْطَٰنٍ
कोई ज़ोर
except
إِلَّا
मगर
that We (might) make evident
لِنَعْلَمَ
ताकि हम जान लें
who
مَن
कौन
believes
يُؤْمِنُ
ईमान लाता है
in the Hereafter
بِٱلْءَاخِرَةِ
आख़िरत पर
from (one) who
مِمَّنْ
उससे जो
[he]
هُوَ
वो है
about it
مِنْهَا
उसके बारे में
(is) in
فِى
शक में
doubt
شَكٍّۗ
शक में
And your Lord
وَرَبُّكَ
और रब आपका
over
عَلَىٰ
ऊपर
all
كُلِّ
हर
things
شَىْءٍ
चीज़ के
(is) a Guardian
حَفِيظٌ
ख़ूब निगहबान है

Wama kana lahu 'alayhim min sultanin illa lina'lama man yuminu bialakhirati mimman huwa minha fee shakkin warabbuka 'ala kulli shayin hafeethun

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

यद्यपि उसको उनपर कोई ज़ोर और अधिकार प्राप्त न था, किन्तु यह इसलिए कि हम उन लोगों को जो आख़िरत पर ईमान रखते है उन लोगों से अलग जान ले जो उसकी ओर से किसी सन्देह में पड़े हुए है। तुम्हारा रब हर चीज़ का अभिरक्षक है

English Sahih:

And he had over them no authority except [it was decreed] that We might make evident who believes in the Hereafter from who is thereof in doubt. And your Lord, over all things, is Guardian.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

और शैतान का उन लोगों पर कुछ क़ाबू तो था नहीं मगर ये (मतलब था) कि हम उन लोगों को जो आख़ेरत का यक़ीन रखते हैं उन लोगों से अलग देख लें जो उसके बारे में शक में (पड़े) हैं और तुम्हारा परवरदिगार तो हर चीज़ का निगरॉ है

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

और नहीं था उसका उनपर कुछ अधिकार (दबाव), किन्तु, ताकि हम जान लें कि कौन ईमान रखता है आख़िरत (परलोक) पर उनमें से, जो उसके विषय में किसी संदेह में हैं तथा आपका पालनहार प्रत्येक चीज़ का निरीक्षक है।[1]