Skip to main content

अज-जुखरूफ आयत ३५ | Az-Zukhruf 43:35

And ornaments of gold
وَزُخْرُفًاۚ
और सोने के भी
And not (is)
وَإِن
और नहीं है
all
كُلُّ
सब कुछ
that
ذَٰلِكَ
ये
but
لَمَّا
मगर
an enjoyment
مَتَٰعُ
सामान
(of) the life
ٱلْحَيَوٰةِ
ज़िन्दगी का
(of) the world
ٱلدُّنْيَاۚ
दुनिया की
And the Hereafter
وَٱلْءَاخِرَةُ
और आख़िरत
with
عِندَ
आपके रब के नज़दीक
your Lord
رَبِّكَ
आपके रब के नज़दीक
(is) for the righteous
لِلْمُتَّقِينَ
मुत्तक़ी लोगों के लिए है

Wazukhrufan wain kullu thalika lamma mata'u alhayati alddunya waalakhiratu 'inda rabbika lilmuttaqeena

Muhammad Faruq Khan Sultanpuri & Muhammad Ahmed:

और सोने द्वारा सजावट का आयोजन भी कर देते। यह सब तो कुछ भी नहीं, बस सांसारिक जीवन की अस्थायी सुख-सामग्री है। और आख़िरत तुम्हारे रब के यहाँ डर रखनेवालों के लिए है

English Sahih:

And gold ornament. But all that is not but the enjoyment of worldly life. And the Hereafter with your Lord is for the righteous.

1 | Suhel Farooq Khan/Saifur Rahman Nadwi

ये सब साज़ो सामान, तो बस दुनियावी ज़िन्दगी के (चन्द रोज़ा) साज़ो सामान हैं (जो मिट जाएँगे) और आख़ेरत (का सामान) तो तुम्हारे परवरदिगार के यहॉ ख़ास परहेज़गारों के लिए है

2 | Azizul-Haqq Al-Umary

तथा बना देते शोभा। नहीं हैं ये सब कुछ, परन्तु सांसारिक जीवन के सामान तथा आख़िरत[1] (परलोक) आपके पालनहार के यहाँ केवल आज्ञाकारियों के लिए है।